BusinessFoodsGamesTravelएंटरटेनमेंटदुनियापॉलिटिक्सवाराणसी तक

Varanasi : काशी में गंगा आरती के वक्त नहीं खड़ी होंगी 600 छोटी नावें, पर्यटकों की सुरक्षा को लेकर हुआ निर्णय

पर्यटकों की सुरक्षा के मद्देनजर काशी में गंगा आरती में छोटी नावों पर रोक

गंगा आरती
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


गंगा आरती को लेकर शाम 4 बजे से रात 8 बजे तक दशाश्वमेध घाट पर छोटी नावें न तो पार्क रहेगी न उनका संचालन होगा। इस पर नाविक समाज एवं जल पुलिस के साथ हुई बैठक में सहमति बनी। इस समय गंगा में करीब 600 छोटी नावें हैं।

जल पुलिस प्रभारी मिथिलेश यादव ने बताया कि पृथ्वी का सबसे बड़ा दबाव दशाश्वमेध और शीतला घाट पर होता है। इस दौरान करीब 1500 नावों से यात्रा गंगा आरती के दर्शन हुए। इसमें छोटी चप्पू वाली नावें शामिल रहती हैं। माइक्रोसॉफ्ट की आबादी को देखते हुए सुरक्षा के आधार पर इन पर चर्चा का निर्णय लिया गया। इस दौरान आरती स्थल से दूर चप्पू वाली नावों का संचालन किया जा सकता है। मां गंगा नेशाद राज सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष ने बताया कि काशी आने वाले पर्यटक स्थल सुरक्षित गंगा आरती के लिए यह निर्णय लिया गया है।

आरती के बाद लेन में ही चलेंगी नावें

जल पुलिस के अनुसार आरती के दौरान अस्सी की ओर जाने वाली नवें घाट किनारे से जबकि अस्सी से आने वाली नवें गंगा के किनारे छोटी रेती की ओर से चलेंगी। जल पुलिस स्पीड बोट से स्थान-स्थान पर नियुक्ति।

समुद्री डाकू समाज ने फर्नीचर सिटी को अलग-अलग रूप दिया

मां गंगा नवादा राज सेवा ट्रस्ट ने सर्टिफ़िकेट सिटी आलोक वर्मा को पत्र लिखा है। आरोप है कि क्रूज़ ऑपरेशन से नाविकों का प्रभावित हो रहा है। उदाहरण के तौर पर खिलाड़ियों में बबलु अवे, अजित रहे।


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button