BusinessFoodsGamesTravelएंटरटेनमेंटदुनियापॉलिटिक्सवाराणसी तक

MP Politics: कांग्रेस नेता अजीत भल्ला BJP में हुए शामिल, बैठक में हुआ था विवाद – MP Politics Congress leader Ajit Bhalla joins BJP controversy broke out in Congress meeting

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी को समाजवादी पार्टी बताया। न्यूनतम के अनुरोध पर गुरु महाराज का काम हुआ।

द्वारा पारस पांडे

प्रकाशित तिथि: शुक्र, 19 अप्रैल 2024 07:20 अपराह्न (IST)

अद्यतन दिनांक: शुक्र, 19 अप्रैल 2024 10:16 अपराह्न (IST)

एमपी पॉलिटिक्स: कांग्रेस नेता अजित भल्ला बीजेपी में शामिल, बैठक में हुआ विवाद
गुरुवार की रात को भाजपा के न्यूनतम विचारधारा वाले देश उनके घर थे, कांग्रेस के कुछ नेता नागालैंड में थे, लेकिन मनी नहीं

पर प्रकाश डाला गया

  1. अपमान से आहत भल्ला ने छोड़ी कांग्रेस, थामा भाजपा का दमन

नईदुनिया प्रतिनिधि, देवास। अपमान से आहत कांग्रेस नेता अजित भल्ला ने शुक्रवार को बीजेपी का अपमान किया। अल्पसंख्यक हितैषी महेंद्र सिंह को भाजपा के साथ शामिल किया गया। इससे पहले गुरुवार रात को कांग्रेस के कुछ नेता अपने घर थे। उन्हें समझाया, मनाया कि जो हुआ उसे भूल जाओ। कांग्रेसियों के जाने के बाद भाजपा ने पूरे देश में अपना निवास स्थान छीन लिया। दोनों की बंद कमरे में बात हुई और शुक्रवार को भल्ला ने भाजपा से मुलाकात कर ली।

इधर, खबर यह भी आई कि भल्ला को कांग्रेस निकलने के लिए कांग्रेस के ही कुछ लोग अड़े हुए थे। लेटर तैयार करने के लिए थे। सीनियर लीडर्स पर दबाव बनाया जा रहा था। दोनों ही तरफ से लिखी जा रही थी। भल्ला को भी साबिर लगी और इससे पहले की अपमानजनक घटना हुई, वे भाजपा में आ गए। घटना के बाद से कांग्रेस में विरोध के स्वर तेज हो गए हैं।

naidunia_image

कांग्रेस के बड़े नेताओं की कार्यशैली की आलोचना हो रही है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही कांग्रेस की बैठक में यह मामला पकड़ा गया था। भल्ला के एक वीडियो पर हंगामा मच गया था। वीडियो में भल्ला ने अल्पसंख्यक मनोहर सिंह की महिमा की थी।

शीलनाथ धूनी ट्रस्ट के अध्यक्ष पद के दावेदारों ने बयान दिया था, लेकिन भाजपा ने इसका राजनीतिक इस्तेमाल किया। इसके बाद जब कांग्रेस की बैठक हुई तो कुछ नेताओं ने भल्ला को आड़े हाथ लेकर आलोचना की। भल्ला के समर्थक पसंदीदा नेताओं को चुप करा दिया। भल्ला ने नईदुनिया से चर्चा में कहा कि जो मैंने कहा वह पर स्टूडेंट हूं।

naidunia_image

वीडियो पुराना है. जो सच है उसे देखकर डर लगता है। जब बात बड़ी तो कांग्रेस के कुछ नेताओं ने एक बड़े नेता से बात कर विरोध जताया कि ऐसे व्यक्ति की पार्टी में क्या काम है। भल्ला को पार्टी से हटाने के लिए भोपाल तक शिकायत करने की बात कही।

गुरुवार की रात को कांग्रेस के कुछ नेता भल्ला को संसदीय क्षेत्र में ले गए, लेकिन कांग्रेसियों के चले जाने से ही भाजपा अल्पसंख्यक विचारधारा पहुंच गई और भाजपा में आने की पटकथा लिखी गई। शुक्रवार सुबह कांग्रेसी खेमे से खबर आई कि विरोध करने वाले नेताओं ने पत्र तैयार कर लिया है।

भल्ला तक भी खबर टिपण्णी। लगातार हो रहे अपमान के भल्ला ने शुक्रवार शाम को भाजपा का अपमान किया था। बताएं कि पूरी घटना नईदुनिया ने देखी। नईदुनिया में समाचारों के बाद प्रकाशित बैठक में डेमोक्रेट से जुड़ी घटनाओं को उजागर किया गया।

कांग्रेस के पुराने सिपाही रहे भल्ला

अजित भल्ला कांग्रेस के पुराने सिपाही हैं। वे छात्र राजनीति से सक्रिय हैं। किसी समय के दबंग नेता सौभागसिंह गौड़ के नीतिकार रह रहे हैं। उनके निदेशक के रूप में काम कर रहे हैं। केपी कॉलेज के अध्यक्ष एवं सचिव रह रहे हैं। दो बार मॉडल रहे। युकां के शहरी राष्ट्रपति रह रहे हैं।

कांग्रेस की वर्तमान पीढ़ी के कई नेताओं ने इसे आगे बढ़ाने में भूमिका निभाई। पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में वे कांग्रेस के पिपरी चौधरी के चुनावी नेता थे। बीजेपी में आने के बाद बीजेपी कार्यालय में भल्ला ने कहा कि कांग्रेस के सहयोगियों से तीखी नोकझोंक के बाद बीजेपी शामिल हुई हूं।

कांग्रेस में बेचैनी हुई थी। भाजपा अनंतिम पार्टी है। जहाँ सम्मान न हो वहाँ रहने से कोई मतलब नहीं। मैं यहां सबसे पीछे खड़ा था, लेकिन सम्मान तो मिलेगा।


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button