BusinessFoodsGamesTravelएंटरटेनमेंटदुनियापॉलिटिक्सवाराणसी तक

High Court Gwalior: जज से महिला बोली: हमसे कागज पर दस्तखत करवा लिया अब वकील का पता नहीं, हमारी विनती सुन लो

साझीदार के मामले में सजा काट रहे व्यक्ति की जमानत के लिए अपनी मासूम बेटी के साथ कोर्ट रूम में सामुहिक महिला ने हाई कोर्ट के जज रोहित आर्या के समसामयिक प्रतिपक्षी ने कहा कि साहब, अशोक जैन वकील साहब ने साइन इन किया था करवा

द्वारा अनिल तोमर

प्रकाशित तिथि: गुरु, 25 अप्रैल 2024 07:24 पूर्वाह्न (IST)

अद्यतन दिनांक: गुरु, 25 अप्रैल 2024 07:24 पूर्वाह्न (IST)

हाई कोर्ट ग्वालियर: जज से महिला बोली: हमसे कागज पर दस्तखत करवा लिया अब वकील का पता नहीं, हमारी विनती सुन लो

पर प्रकाश डाला गया

  1. चतुर्थ अशोक जैन पर फिर लगा काउंसिल ऑफ काउंसिल और फर्जीवाड़ा का आरोप
  2. धोखाधड़ी के मामले में धोखाधड़ी करने वाले फर्जी हलफनामे के मामले में हाई कोर्ट की दोस्त पीठ के साथ एक और किस्सा शामिल हो गया

उच्च न्यायालय ग्वालियर: नईदुनिया प्रतिनिधि, प्रतिनिधि: धोखाधड़ी के मामले में धोखाधड़ी करने वाले फर्जी हाफनामे के मामले में हाई कोर्ट की दोस्त पीठ के साथ एक और किस्सा जुड़ गया। सामुहिक मामले में सजा काट रहे व्यक्ति की जमानत के लिए अपनी मासूम बेटी के साथ कोर्ट रूम में सामुहिक महिला ने हाई कोर्ट के जज रोहित आर्या के समसामयिक कोलाहलपूर्ण बातें कही कि साहब, अशोक जैन वकील साहब ने साइन करवाये थे, अब उनका कुछ पता नहीं है। हमारी सुनवाई कर लो। इसके साथ महिला ने यह भी बताया है कि अशोक जैन ने जिस व्यक्ति का हलफनामा लगाया है, उसमें उसे भी महिला नहीं बताया गया है। न्यायमूर्ति आर्या ने महिला की समस्या को सुनने के लिए इस मामले में किसी अन्य वकील को अपनी ओर से पैरवी के लिए नियुक्त किया है। अब इस मामले में उनकी पैरवी तय हुई दूसरे वकील की इच्छा।

मई में जांच जांच रिपोर्ट पेश

उच्च न्यायालय में अभियोजन पक्ष के वकील अजय निरंकारी ने शौकत अशोक जैन और उनके द्वारा जमानत याचिकाओं में फर्जी हाफनामे की अनियमितता पूरे मामले का राजफाश किया था। जहां अशोक जैन ने हिंदू व्यक्ति की फाइल में मुस्लिम और मुस्लिम की फाइल में हिंदू व्यक्ति का हाफनामा लगाया था। हाई कोर्ट ने अशोक जैन के सभी मामलों की रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए हैं, जिनमें से कुछ मामलों की रिपोर्ट पेश की जाएगी, बाकी मामलों की रिपोर्ट मई में पेश की जाएगी और बाकी की सुनवाई भी होगी।

  • लेखक के बारे में

    2000 से पत्रकारिता में हूँ। दैनिक जागरण, नवभारत में रिपोर्टर के रूप में काम किया है। दैनिक भास्कर अखबार, अजमेर में रिपोर्टर रह रहा है। 2007 से 2013 तक दैनिक भास्कर के मुरैना कार्यालय में ब्यूरो प्रमुख के रूप में मे


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button