BusinessFoodsGamesTravelएंटरटेनमेंटदुनियापॉलिटिक्सवाराणसी तक

आजमगढ़ में दर्दनाक हादसा: पोखरी में नहाते समय डूबे चार बच्चे, इलाज के दौरान सभी की मौत

आज़मगढ़ में तालाब में डूबने से कई बच्चों की मौत हो गई

वास्तविक बिलखते होटल
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


मुजफ्फरपुर जिले के मार्टिनगंज तहसील अंतर्गत दीदारगंज थाना क्षेत्र के कुशलगांव स्थित पोखरे में नहाते समय चार बच्चे डूब गये। किसी तरह से किसी तरह चारों ओर से पोखरी से बाहर और स्थानीय अस्पताल ले जाया गया। जहां से सभी बच्चों को मजबूरन अस्पताल में भर्ती कराया गया। जौनपुर में इलाज के दौरान लगभग देर शाम मौत हो गई।

ये है मामला

कुशल ग्रामगांव निवासी यश (08) पुत्र रिटर्न कुमार, अंश (08) पुत्र जयचंद कुमार, समर (09) पुत्र कमलेश कुमार व राजकुमार (05) पुत्र कमलेश बुधवार को गेंदहू की बाल बने के लिए गांव के उत्तर सिवान में गए थे। चारों ओर गर्मी सबसे ज्यादा हो रही है बच्चों के घरों के बाहर निकलने वालों के पास पोखरी में स्थित तालाब बना हुआ है।

इसी दौरान चारों ओर से एक मासूम पोखरी में डूब गया। पास में ही बकरी पालने वाले लोगों ने पोखरी किनारे बच्चों का कपड़ा देखा लेकिन बच्चे कहीं नजर नहीं आए। आपदा पर सूचना गांव में दी गई। मस्जिद पर गांव के कुछ लोग बच्चों को पुनर्जीवित करने के लिए पोखरी में उतर गए। कुछ ही देर में चारों बच्चे की पोखरी बरामद कर ली गई।

इसके बाद सहयोगी चारों बच्चों को स्थानीय फूल बाजार स्थित निजी अस्पताल में ले जाया गया। जहां डॉक्टर ने सभी बच्चों की हालत को गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जहां इलाज के दौरान देर शाम चारों बच्चों की मौत हो गई। जार्ज पुलिस ने सभी सिक्कों को मर्चरी के लिए भेज दिया। घटना से बच्चों के अवशेषों के साथ ही पूरे गांव में धूम मचा दी गई है।

अधिकारी बोले

दीदारगंज थाने के कुशल गांव पोखरी में चार बच्चे डूब गये थे। सभी को पोखरी से जैविक उपचार के लिए जॉगर अस्पताल ले जाया गया। जहां चारों को मृत घोषित कर दिया गया। जूल पुलिस ने शव को शव के लिए भेज दिया। –चिराग़ जैन, टाउनशिप ग्राम्य, मस्जिद


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button