News

HRTC में बढ़ेगा करूणामूलक नौकरियों का कोटा, 491 ड्राइवरों की होगी भर्ती

हिमाचल पथ परिवहन निगम

हिमाचल पथ परिवहन निगम

हिमाचल में कुल 3708 रूट हैं, जिनमें से 1984 में कुल चल रहा है। ये रूट में 1713 राज्य के भीतर ही चल रहा है। 24 रूट दिल्ली, 11 हरिद्वार, 59 चंडीगढ़ के हैं।

शिमला। हिमाचल प्रदेश के परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ने यहां हिमाचल पथ परिवहन निगम (HRTC) के निदेशक मण्डल और हिमाचल प्रदेश शहरी परिवहन और बस अड्डा प्रबन्धन एवं विकास प्राधिकरण के निदेशकमण्डल की बैठक की घोषणा की। बिक्रम सिंह ने कहा कि निगम करुनमूलक आधार पर नौकरी (नौकरियां) प्रदान करने का कोटा 5 प्रतिशत से बढ़ाकर 10 प्रतिशत करने का प्रस्ताव प्रदेश सरकार के समक्ष प्रस्तुत किया गया। निदेशक मंडल की पिछली बैठक में इस संदर्भ में प्रस्ताव पारित किया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि कॉर्पोरेशन ही ड्राइवरों के ड्राइविंग टेस्ट (ड्राइविंग टेस्ट) करवाएगा और ड्राइवरों के 491 पद भरे जाएंगे। पेंशनरों को राहत प्रदान करने के उद्देश्य से शीघ्र ही पेंशन प्रदान करने के प्रयास भी किए जाएंगे।

निगम की प्रॉपर्टी पर कब्जाधारियों की पूछी गई सूची

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि निगम की भूमि और सम्पादक अधिकारियों पर अवैध कब्जा करने वालों की जानकारी एकत्र की जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि निगम के लिए बसों की खरीद प्रक्रिया में तीव्रता लाई जाए। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान निगम को हुई वित्तीय क्षति को पूरा करने के लिए प्रदेश सरकार ने निगम को 353 करोड़ रुपये प्रदान किए ।perivhan मंत्री ने कहा कि विभाग ई-परिवहन व्यवस्था के माध्यम से विभिन्न प्रकार की सेवाओं को उपलब्ध करवा रहा है। । बद्दी में 16.50 करोड़ रुपये की लागत से सभी प्रकार के वाहनों की देखभाल के लिए स्वचालित निरीक्षण और परीक्षण केंद्र स्थापित किया जा रहा है। सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में पीसीपी मोड पर 40 करोड़ रुपये की लागत से मोबाइल स्वचालित जांच केंद्र भी स्थापित किए जाएंगे।

हिमाचल में कुल कितने रूट

हिमाचल में कुल 3708 रूट हैं, जिनमें से 1984 में कुल चल रहा है। ये रूट में 1713 राज्य के भीतर ही चल रहा है। 24 रूट दिल्ली, 11 हरिद्वार, 59 चंडीगढ़ के हैं। विक्रम ठाकुर ने बताया कि कारोना काल में हिमाचल परिवहन निगम को 450 करोड़ का नुकसान हुआ है, जिसकी भरपाई के लिए सरकार ने 353 करोड़ रुपये जारी किए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में स्वारघाट, पांवटा, सुन्नी व ऊना सहित 6 बसंत बनकर तैयार हो गए हैं, जिनको जल्द ही शुरू किया जाएगा। परिवहन में पेंशन की समस्या को 15 दिन के भीतर सुलझा लिया जाएगा।

ट्रांसपोर्ट नगर स्थापित होगा

बिक्रम सिंह ने कहा कि हमीरपुर जिले के नादौन में 27.20 करोड़ रुपये की लागत से परिवहन नगर स्थापित किया जाएगा। यहां ड्राइविंग और टैस्टिंग ट्रैक, ड्राइविंग स्कूल, वर्कशाॅप आदि बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने परिवहन विभाग में सड़क सुरक्षा सैल का गठन भी किया है। बैठक में निगम उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री, मुख्य सचिव परिवहन केके पंत, निगम के प्रबन्ध निदेशक संदीप कुमार, निदेशक अनुपम कश्यप सहित बोर्ड के गैर-सरकारी सदस्य उपस्थित थे।




Source link

Show More

varanasicoverage4742

“खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते”।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button