देश

इसरो के वैज्ञानिक का दावा : उन्हें जहर दिया गया था

नई दिल्‍ली (डेली हिंदी न्‍यूज़)। इसरो के वैज्ञानिक और अहमदाबाद स्पेस एप्लीकेशन सेंटर के पूर्व निदेशक तपन मिश्रा का दावा है कि उन्हें जहर दिया गया था। उनका कहना है कि यह जहर उन्हें प्रमोशन इंटरव्यू के समय दिए गए नाश्ते में मिलाकर दिया गया था।

isro-tapan-mishra

तपन मिश्रा ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर यह चौंकाने वाला दावा किया है। मिश्रा ने लिखा है कि जहर की वजह से उन्हें 30 से 40 फीसदी ब्लड लॉस हुआ था। साथ ही उन्हें एनल ब्लीडिंग हो रही थी। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। बड़ी मुश्किल से उनकी जान बच पाई।

तपन मिश्रा ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि ‘इसरो में हमें कभी-कभी बड़े वैज्ञानिकों के संदिग्ध मौत की खबर मिलती रही है। साल 1971 में प्रोफेसर विक्रम साराभाई की मौत संदिग्ध हालात में हुई थी। उसके बाद 1999 में VSSC के निदेशक डॉक्टर एस श्रीनिवासन की मौत पर भी सवाल उठे थे। इतना ही नहीं 1994 में श्री नांबीनारायण का केस भी सबके सामने आया था। लेकिन मुझे नहीं पता था कि एक दिन मैं इस रहस्य का हिस्सा बनूंगा।’

फेसबुक पोस्ट के मुताबिक, 23 मई 2017 को तपन मिश्रा को जानलेवा आर्सेनिक ट्राइऑक्साइड (Arsenic Trioxide) दिया गया था। यह उन्हें उनके प्रमोशन इंटरव्यू के दौरान बेंगलुरु के इसरो हैडक्‍वार्टर में चटनी और दोसा में मिलाकर दिया गया था। इसे उन्होंने लंच के कुछ देर बाद हुए नाश्ते में खाया था। इंटरव्यू के बाद वो बड़ी मुश्किल से बेंगलुरु से अहमदाबाद पहुंचे थे। तपन मिश्रा ने Sci/Eng SF ग्रेड से SG ग्रेड के लिए इंटरव्यू दिया था।

tapan-mishra

दो साल तक कराया इलाज

तपन मिश्रा लिखते हैं कि अहमदाबाद लौटने के बाद उन्हें एनल ब्लीडिंग शुरू हो गई थी। इसके चलते उनके शरीर से 30 से 40 फीसदी तक ब्लड लॉस हो गया था। उन्हें अहमदाबाद के जाइडल कैडिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें सांस लेने में भी दिक्कत पेश आ रही थी। इतना ही नहीं, त्वचा निकल रही थी। हाथों और पैर की उंगलियों से नाखून उखड़ने लगे थे। न्यूरोलॉजिकल समस्याएं जैसे हापोक्सिया, हड्डियों में दर्द, सेंसेशन, एक बार हल्का दिल का दौरा, आर्सेनिक डिपोजिशन और शरीर के बाहरी और अंदरूनी अंगों पर फंगल इंफेक्शन तक हो गया था। उन्हें करीब दो साल तक अपना इलाज जारी रखना पड़ा था।


For latest sagar news right from Sagar (MP) log on to Daily Hindi News डेली हिंदी न्‍यूज़ के लिए डेली हिंदी न्‍यूज़ नेटवर्क Copyright © Daily Hindi News 2021

इस श्रेणी के अन्‍य समाचार भी देखें


Source link

इसरो के वैज्ञानिक का दावा : उन्हें जहर दिया गया था via @varanasicoveragenews.com

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
0 Shares 36 views
36 views 0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap