होम

Brown Eggs Vs White Eggs: ब्राउन अंडे बनाम व्हाइट अंडे क्या है फर्क, जानें ये 5 अंतर

Brown Eggs Vs White Eggs: ब्राउन अंडे बनाम व्हाइट अंडे क्या है फर्क, जानें ये 5 अंतर

अंडा आपके वजन को नियंत्रित रखने में काफी मदद करता है.

खास बातें

  • अंडे में प्रोटीन के अलावा कैल्शियम भी पाया जाता है.
  • प्रोटीन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है.
  • अंडा खाने से भूख को शांत किया जा सकता है.

Brown Eggs Vs White Eggs: अंडा प्रोटीन का अच्छा सोर्स माना जाता है. प्रोटीन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. अंडे में प्रोटीन के अलावा कैल्शियम भी होता है. जो हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए के लाभदायक माना जाता है. लेकिन परेशानी की वजह है अंडो में अंतर करना, कि कौन सा अंडा हमारे लिए ज्यादा फायदेमंद है. तो परेशान ना हो यहां पर आपकी परेशानी का हल है. जिस तरह से ब्राउन ब्रेड, ब्राउन राइस और ब्राउन शुगर खाना हमारी सेहत के लिए अच्छा होता है. ठीक उसी तरीके क्या ब्राउन अंडा भी फायदेमंद है या नहीं ये आपको हम बताएंगे. अंडा खाने के कई लाभ हो सकते हैं. अंडा आपके वजन को नियंत्रित रखने में काफी मदद करता है. अंडा खाने से भूख को शांत किया जा सकता है. जिससे आप ओवरईटिंग से बच सकते हैं. अंडा खाने से शरीर में एनर्जी बनी रहती है. सर्दियों में अंडा खाना सेहत के लिए काफी लाभदायक माना जाता है. लेकिन सेहत के लिए कौन सा अंडा ज्यादा अच्छा ये हम बताएंगे आपको.

सेहत के लिए कौन सा अंडा है फायदेमंद ब्राउन या व्हाइटः

9eqs1eig

दोनों अंडों के पोषक तत्व में कोई भी अंतर नहीं होता है

यह भी पढ़ें

1. असल में सफेद और ब्राउन अंडे के पोषण मूल्यों में कोई बड़ा फर्क नहीं. सिवाए इसके कि ब्राउन अंडे में ज्यादा ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है.

2. सफेद अंडे सफेद पंखों वाली मुर्गी के होते है. वहीं ब्राउन अंडे भूरे पंखों वाली मुर्गी के होते हैं.

3. ब्राउन अंडे महंगे होते हैं क्योंकि ब्राउन मुर्गी ज्यादा खाती है.

4. दोनों अंडों के स्वाद में अंतर की वजह मुर्गियों का अलग आहार है

5. माना जाता है कि ब्राउन अंडे सफेद अंडे की तुलना में ज्यादा फायदेमंद होता है.

समोसा खाना पसंद है, तो ट्राई करें, स्वाद और सेहत से भरपूर प्रोटीन दाल समोसा, फ़ूड वीडियो के लिए NDTV ज़ायका सब्सक्राइब करें

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.


Source link

Show More

varanasicoverage4742

“खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते”।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button