NewsVIDEOअन्य खबरकवर स्टोरीकोरोना वायरसखेलज़रा हटकेताज़ातरीनदुनियादेशपॉलिटिक्स समाचारबॉलीवुडमिर्जापुरराज्य-शहरराष्ट्रीय समाचारवाराणसी तकहोम

Bihar Election: प्रत्याशियों पर जारी है जानलेवा हमले का सिलसिला, यहां देखें पूरी लिस्ट

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव ( Bihar Vidhan Sabha Chunav ) अब आखिरी दौर में पहुंचा है। सात नवंबर यानी शनिवार को अंतिम चरण का मतदान होगा। वहीं, गुरुवार शाम को प्रचार का शोर थम गया। हालांकि, इस चुनाव में कोई बड़ी हिंसक घटनाएं तो नहीं हुई, लेकिन कुछ प्रत्याशियों पर प्रचार के दौरान जानलेवा हमला जरूर हुआ। आखिर चरण के मतादन से पहले भी दरभंगा जिले में एक निर्दलीय प्रत्याशी पर जानलेवा हमला हुआ है। बताया जा रहा है कि हायाघाट विधानसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी रविन्द्रनाथ सिंह उर्फ चिंटू सिंह को अज्ञात अपराधियों ने गोली मार दी।

पढ़ें- पुष्पम प्रिया की प्लूरल्स पार्टी के उम्मीदवार पर हमला, जानें इस चुनाव में अब तक कितने प्रत्याशी हुए ‘शिकार’

निर्दलीय उम्मीदवार पर जानलेवा हमला

जानकारी के मुताबिक, रविन्द्रनाथ हायाघाट से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। इस सीट पर आखिरी चरण में मतदान है। गुरुवार रात को रविन्द्रनाथ प्रचार खत्म कर जब अपने घर लौट रहे थे, उसी दौरान कोठरी के पास कुछ लोगों ने उनकी गाड़ी को रोक दिया। जैसे ही वह गाड़ी से बाहर निकले, अपराधियों ने उनपर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। वहीं, वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी मौके से फरार हो गए। वहीं, रविन्द्रनाथ को तुरंत DMCH ले जाया गया। जहां उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई और मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है। नगर एसपी अशोक प्रसाद का कहना है कि रविन्द्रनाथ हायाघाट के काफी लोकप्रिय नेता हैं। नगर एसपी के मुताबिक, हायाघाट सीट पर मुकाबला त्रिकोणीय था। इतना ही नहीं समाजसेवी के रूप में भी उनकी काफी पहचान है। पुलिस का कहना है कि जब तक रविन्द्रनाथ होश में नहीं आ जाते, तब तक इस घटना के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है। वहीं, इस हादसे से पूरे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब किसी प्रत्याशी पर जानलेवा हमला हुआ है। इससे पहले भी कुछ प्रत्याशियों पर हमले हो चुके हैं।

प्रत्याशियों पर हमले की लिस्ट

कुछ दिन पहले ही प्लूरल्स पार्टी के सीवान से उम्मीदवार रामेश्वर सिंह पर जानलेवा हमला हुआ था। रामेश्वर सिंह जब दूसरे चरण के मतदान के लिए प्रचार करके लौट रहे थे, तो उनपर केमिकल वाली स्याही से हमला किया गया था। इस हमले में उनकी एक आंख क्षतिग्रस्त हो गया था। प्लूरल्स पार्टी की मुखिया पुष्पम प्रिया ने भी इस घटना की कड़ी निंदा की थी। उससे पहले गया में जन अधिकार पार्टी के गया से उम्मीदवार पर भी हमला हुआ था। उनपर फायरिंग की गई थी। वहीं, पूर्णिया से RLSP उम्मीदवार पर फायरिंग की गई थी। इस हमले में वह बाल-बाल बच गए थे। जबकि, शिवहर विधानसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी और उनके एक समर्थक को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसके अलावा भी कुछ जगहों कुछ प्रत्याशियों पर हमले की खबरें सामने आ चुकी हैं।

पढ़ें- NIA की शिकायत पर अमानतुल्ला खान के खिलाफ FIR, काम में बाधा डालने का आरोप




Source link

Show More

varanasicoverage4742

“खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते”।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
0 Shares 33 views
33 views 0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap